Ctet / Uptet 2021: Know What Is The Difference Between Both The Eligibility Tests And Which Exam Is Best For You-safalta – Ctet/uptet 2021: जानें दोनों पात्रता परीक्षाओं में क्या है अंतर और कौन सी परीक्षा है आपके लिए बेस्ट

[ad_1]

सार

CTET और UPTET के लिए जल्द ही नोटिफिकेशन जारी किया जा सकता है। CTET का आयोजन CBSE द्वारा और UPTET का आयोजन UPBEB द्वारा किया जाना है।

ख़बर सुनें

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) और उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) देश की दो सबसे बड़ी शिक्षक पात्रता परीक्षाओं में से एक हैं, लेकिन इन दोनों परीक्षाओं के आयोजन के लिए अभी तक कोई नोटिफिकेशन नहीं जारी किया गया है। गौरतलब है कि कोरोना महामारी की वजह से देश मे जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया था और इसका असर इन परीक्षाओं पर भी पड़ा है। हालांकि अब कोरोना महामारी की स्थिति सुधर रही है और जनजीवन सामान्य हो रहा है, ऐसे में यह उम्मीद लगाई जा रही है कि इन पात्रता परीक्षाओं के आयोजन के लिए जल्द ही तारीखों की घोषणा हो सकती है। साथ ही अगर आप किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो आपको तुरंत सफलता के फ्री कोर्स से जुड़ जाना चाहिए। 

दोनों पात्रता परीक्षाओं में क्या है अंतर :

शिक्षक पात्रता परीक्षाओं की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों के सामने बार बार यह प्रश्न खड़ा होता है कि CTET और UPTET में क्या अंतर है और उनके लिए इन दोनों में से सबसे बेहतर कौन है। गौरतलब है CTET का आयोजन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) करता है और UPTET का आयोजन उत्तरप्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड (UPBEB) द्वारा किया जाता है। 
इन दोनों पात्रता परीक्षाओं में अंतर की बात करें तो इनमें मूल अंतर यह है कि CTET का आयोजन केंद्र सरकार के स्कूलों में शिक्षकों की बहाली के लिए किया जाता है और UPTET का आयोजन उत्तर प्रदेश सरकार के स्कूलों में शिक्षकों की बहाली के लिए किया जाता है। इसके अलावा इन परीक्षाओं में एक अंतर यह भी है कि CTET का आयोजन साल में 2 बार किया जाता है और UPTET का आयोजन साल में एक बार ही किया जाता है। हालांकि अब इन दोनों परीक्षाओं के सर्टिफिकेट को पूरे लाइफटाइम के लिए मान्य कर दिया गया है। आप इन दोनों परीक्षाओं के मूल अंतरों को समझ कर अपने लिए बेस्ट ऑप्शन का चयन कर सकते हैं।

दोनों परीक्षाओं का सिलेबस तथा एग्जाम पैटर्न है एक समान  :

इन दोनों परीक्षाओं की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों के पास यह ऑप्शन रहता है कि वो एक परीक्षा की तैयारी करके दूसरे परीक्षा में भी बैठ सकते हैं। दरअसल CBSE द्वारा आयोजित किए जाने वाले CTET और UPBEB द्वारा आयोजित किए जाने वाले UPTET, इन दोनों परीक्षाओं का सिलेबस तथा एग्जाम पैटर्न एक समान है। CTET और UPTET दोनों परीक्षाओं के दोनों पेपर्स में कुल 150  – 150 अंक के 150 प्रश्न पूछे जाते हैं। 

कैसे करें प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी :

अगर आप UPSSSC PET, SSC GD, UP SI या अन्य किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो अपनी तैयारी को बेहतर बनाने के लिए आपको आज ही सफलता के फ्री कोर्स से जुड़ जाना चाहिए। सफलता द्वारा इन प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए एक्सपर्ट फैकल्टीज के मार्गदर्शन में फ्री कोर्स चलाया जा रहा है। आप इन कोर्सेस से सफलता ऐप के जरिए भी जुड़ सकते हैं।

विस्तार

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) और उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) देश की दो सबसे बड़ी शिक्षक पात्रता परीक्षाओं में से एक हैं, लेकिन इन दोनों परीक्षाओं के आयोजन के लिए अभी तक कोई नोटिफिकेशन नहीं जारी किया गया है। गौरतलब है कि कोरोना महामारी की वजह से देश मे जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया था और इसका असर इन परीक्षाओं पर भी पड़ा है। हालांकि अब कोरोना महामारी की स्थिति सुधर रही है और जनजीवन सामान्य हो रहा है, ऐसे में यह उम्मीद लगाई जा रही है कि इन पात्रता परीक्षाओं के आयोजन के लिए जल्द ही तारीखों की घोषणा हो सकती है। साथ ही अगर आप किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो आपको तुरंत सफलता के फ्री कोर्स से जुड़ जाना चाहिए। 

दोनों पात्रता परीक्षाओं में क्या है अंतर :

शिक्षक पात्रता परीक्षाओं की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों के सामने बार बार यह प्रश्न खड़ा होता है कि CTET और UPTET में क्या अंतर है और उनके लिए इन दोनों में से सबसे बेहतर कौन है। गौरतलब है CTET का आयोजन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) करता है और UPTET का आयोजन उत्तरप्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड (UPBEB) द्वारा किया जाता है। 

इन दोनों पात्रता परीक्षाओं में अंतर की बात करें तो इनमें मूल अंतर यह है कि CTET का आयोजन केंद्र सरकार के स्कूलों में शिक्षकों की बहाली के लिए किया जाता है और UPTET का आयोजन उत्तर प्रदेश सरकार के स्कूलों में शिक्षकों की बहाली के लिए किया जाता है। इसके अलावा इन परीक्षाओं में एक अंतर यह भी है कि CTET का आयोजन साल में 2 बार किया जाता है और UPTET का आयोजन साल में एक बार ही किया जाता है। हालांकि अब इन दोनों परीक्षाओं के सर्टिफिकेट को पूरे लाइफटाइम के लिए मान्य कर दिया गया है। आप इन दोनों परीक्षाओं के मूल अंतरों को समझ कर अपने लिए बेस्ट ऑप्शन का चयन कर सकते हैं।

दोनों परीक्षाओं का सिलेबस तथा एग्जाम पैटर्न है एक समान  :

इन दोनों परीक्षाओं की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों के पास यह ऑप्शन रहता है कि वो एक परीक्षा की तैयारी करके दूसरे परीक्षा में भी बैठ सकते हैं। दरअसल CBSE द्वारा आयोजित किए जाने वाले CTET और UPBEB द्वारा आयोजित किए जाने वाले UPTET, इन दोनों परीक्षाओं का सिलेबस तथा एग्जाम पैटर्न एक समान है। CTET और UPTET दोनों परीक्षाओं के दोनों पेपर्स में कुल 150  – 150 अंक के 150 प्रश्न पूछे जाते हैं। 

कैसे करें प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी :

अगर आप UPSSSC PET, SSC GD, UP SI या अन्य किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो अपनी तैयारी को बेहतर बनाने के लिए आपको आज ही सफलता के फ्री कोर्स से जुड़ जाना चाहिए। सफलता द्वारा इन प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए एक्सपर्ट फैकल्टीज के मार्गदर्शन में फ्री कोर्स चलाया जा रहा है। आप इन कोर्सेस से सफलता ऐप के जरिए भी जुड़ सकते हैं।

[ad_2]

Source link

Reply