Uppsc: Result After Five Years, Appointment Stuck For Five Months – यूपीपीएससी : पांच साल बाद परिणाम, पांच माह से अटकी नियुक्ति

[ad_1]

अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज
Published by: विनोद सिंह
Updated Fri, 20 Aug 2021 10:26 PM IST

ख़बर सुनें

समीक्षा अधिकारी (आरओ)/सहायक समीक्षा अधिकारी (एआरओ)-2016 का परिणाम आने में पांच साल लगे और अब पांच माह से चयनित अभ्यर्थियों की नियुक्ति फंसी हुई है। अभ्यर्थियों ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष से मांग की है कि उनकी नियुक्ति की प्रक्रिया शीघ्र पूरी की जाए।

आरओ/एआरओ-2016 की प्रारंभिक परीक्षा में पेपर वायरल होने के मामले में आयोग ने प्रारंभिक परीक्षा निरस्त कर दी थी और यह परीक्षा दोबारा आयोजित की गई थी। विवाद के कारण भर्ती प्रक्रिया पांच साल में पूरी हो सकी। आयोग ने आरओ/एआरओ-2016 का अंतिम चयन परिणाम पांच अप्रैल 2021 को जारी किया था।

चयनित अभ्यर्थियों का अभिलेख सत्यापन 28, 29 एवं 30 जून को कराया गया था, लेकिन चयनित अभ्यर्थियों की नियुक्ति की संस्तुति अब तक शासन/सचिवालय को नहीं भेजी गई है। अभ्यर्थियों को भर्ती पूरी होने के लिए पांच साल इंतजार करना पड़ा और अब पांच माह से नियुक्ति मिलने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। यहां तक कि जिनका चयन आयोग के लिए हुआ है, उन्हें भी अब तक ज्वाइन नहीं कराया गया है। चयनित अभ्यर्थियों ने आयोग के अध्यक्ष से मांगी है कि उनकी ज्वाइनिंग शीघ्र कराई जाए।

विस्तार

समीक्षा अधिकारी (आरओ)/सहायक समीक्षा अधिकारी (एआरओ)-2016 का परिणाम आने में पांच साल लगे और अब पांच माह से चयनित अभ्यर्थियों की नियुक्ति फंसी हुई है। अभ्यर्थियों ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष से मांग की है कि उनकी नियुक्ति की प्रक्रिया शीघ्र पूरी की जाए।

आरओ/एआरओ-2016 की प्रारंभिक परीक्षा में पेपर वायरल होने के मामले में आयोग ने प्रारंभिक परीक्षा निरस्त कर दी थी और यह परीक्षा दोबारा आयोजित की गई थी। विवाद के कारण भर्ती प्रक्रिया पांच साल में पूरी हो सकी। आयोग ने आरओ/एआरओ-2016 का अंतिम चयन परिणाम पांच अप्रैल 2021 को जारी किया था।

चयनित अभ्यर्थियों का अभिलेख सत्यापन 28, 29 एवं 30 जून को कराया गया था, लेकिन चयनित अभ्यर्थियों की नियुक्ति की संस्तुति अब तक शासन/सचिवालय को नहीं भेजी गई है। अभ्यर्थियों को भर्ती पूरी होने के लिए पांच साल इंतजार करना पड़ा और अब पांच माह से नियुक्ति मिलने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। यहां तक कि जिनका चयन आयोग के लिए हुआ है, उन्हें भी अब तक ज्वाइन नहीं कराया गया है। चयनित अभ्यर्थियों ने आयोग के अध्यक्ष से मांगी है कि उनकी ज्वाइनिंग शीघ्र कराई जाए।

[ad_2]

Source link

Reply